Kotdwar में मिला एक युवक कोरोना संक्रमित, प्रदेश में 104 हुए मरीज

Uttarakhand News:


 एक संक्रमित मरीज मिले के बाद अब प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 97 से बढ़कर 104 पहुंच गई है। 
स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार, राजकीय बेस हॉस्पिटल कोटद्वार से भेजे गये सैम्पल में एक 26 वर्षीय युवक का कोरोना पॉजेटिव आया है। बताया गया है कि युवक विगत दिनों गुरुग्राम हरियाणा से प्रदेश वापस आया था।


युवक के संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है और युवक के संपर्क में आए लोगों की तलाश की जा रही है ताकि उनकी पहचान कर उन्हें क्वारंटाइन किया जा सके।
बताया गया है कि संक्रमित युवक 13 मई को कोटद्वार वापस आया था। युवक में कोरोना के लक्षण मिलने 18 मई को उसके सैम्पल जांच  के लिए गए थे। जांच रिपोर्ट में आज युवक के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हो गई है।


Coronavirus in Uttarakhand : चमोली में मिला पहला पॉजिटिव, कितनों के संपर्क में आया हो रही छानबीन पौड़ी, उत्तरकाशी, अल्मोड़ा व चमोली के बाद अब बागेश्वर में कोरोना के मामले सामने आए हैं। यहां से पहली बार में ही दो मामले सामने आए हैं। उत्तराखंड में कुल मरीजों की संख्या अब 104 हो गई है। इनमें से 52 मरीज ठीक हो चुके हैं। आज मिले मरीजों में एक मरीज कोटद्वार, दो बागेश्वर, दो ऊधमसिंह नगर और दो नैनीताल के हैं। अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने इन मामलों की पुष्टि की है। उत्तराखंड में सोमवार को कोरोना संक्रमण के पांच मामले सामने आए थे। दो मामले देहरादून, एक उत्तरकाशी, एक नैनीताल और एक मामला चमोली जिले में सामने आया था। चमोली जिले में कोरोना संक्रमण का यह पहला मामला है।


आज देहरादून के सहारनपुर चौक के पास पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाने के लिए श्रमिकों की लंबी लाइन लगी रही। बताया गया कि ये श्रमिक देर रात एक बजे से खाता खुलवाने के लिए लाइन में लगे हैं।

देहरादून के मुख्य डाकघर में खाता खुलवाने को लेकर मारामारी हो रही है। बिंदाल बस्ती, कौलागढ़ बस्ती, जमहार कॉलोनी के मजदूर देर रात एक बजे से जीपीओ के मुख्य गेट पर पहुंचे हैं और लाइन में लगे हैं। उनका कहना है कि वे लाइन में सबसे आगे थे, लेकिन सुबह कार्यालय का गेट खुलने पर नई लाइन बना दी गई और उन्हें पीछे खड़ा कर दिया गया।

वहीं हरिद्वार के ग्रीन जोन में शामिल होने के बाद बाजारों में रौनक लौट आई है। आज यहां बाजार खुलते ही लोग खरीदारी के लिए पहुंचे। वहीं लॉकडाउन के चौथे चरण के दूसरे दिन मंगलवार को अल्मोड़ा में दोनों तरफ की दुकानें खुलीं। यहां आज से ई रिक्शा भी चलना शुरू हो गया है। रिक्शा में एक ही को बैठाया जा रहा है।

होटल मालिक ने दो महीने से तनख़्वाह नहीं दी
हरिद्वार भल्ला स्टेडियम के बाहर लोग लगातार आ रहे हैं। टिहरी, घनसाली निवासी जो कि हरिद्वार में होटलों में काम करते थे,अपना सामान समेटकर घर जाने के लिए आए हैं। सुबह से यहीं पर बैठे हुए हैं। लवेंद्र बिस्ट ने बताया कि होटल मालिक ने दो महीने से तनख़्वाह नहीं दी, अब कमरा ख़ाली करने को कह दिया तो घर जाने के लिए निकल गए हैं। 

उन्होंने बताया कि सबसे बड़े दुःख की बात ये रही कि होटल मालिक ने उनके सामान की तलाशी ली कि कहीं होटल का सामान चोरी तो नहीं कर लाए हैं। संतुष्ट होने के बाद ही उन्हें जाने दिया गया।
मंडी में शुरू हुई वाहनों की ऑड-ईवन व्यवस्था

निरंजनपुर मंडी में सोमवार से वाहनों की ऑड-इवन व्यवस्था लागू हो गई। पहले दिन 407 लोडर और टेंपो वाहनों को मंडी में प्रवेश दिया गया। साथ ही घंटेवार पास की व्यवस्था भी लागू हो गई है। मंडी अधिकारियों ने रात में व्यवस्था बनाई। वहीं पहले दिन घंटेवार पास को लेकर  लोगों में कुछ गफलत रही।

मंडी में भीड़ कम करने और सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था बनाए रखने के लिए सोमवार से एंट्री का नया सिस्टम लागू किया। गेट से केवल उन्हीं लोडर और टेंपो को एंट्री दी गई, जिनके सोमवार के पास बने हुए थे। वहीं, रिटेल कारोबारियों व किसानों को घंटेवार प्रवेश दिया गया।

मंडी अधिकारी पिछले तीन दिनों से आढ़तियों, किसानों और लोडर-टेंपो वालों के साथ ऑड-ईवन की व्यवस्था बना रहे थे। वहीं घंटेवार पास को लेकर पहले दिन लोगों में गफलत की स्थिति दिखी। कई लोग पास में निर्धारित समय से पहले ही मंडी पहुंच गए, जिन्हें गेट पर रोक दिया गया। वहीं, कुछ लोग ऐसे भी थे, जो पास में निर्धारित समयावधि पूरी होने के बाद भी मंडी के अंदर ही रहे। मंडी अधिकारियों ने लोगों को घंटेवार पास के बारे में जानकारी दी।

किसानों, रिटेल कारोबारियों को मंडी अधिकारियों ने समझाया कि वो केवल उतने समय ही मंडी के अंदर रह सकते हैं, जितनी देर के लिए उन्हें पास जारी किया गया है। मंडी अध्यक्ष राजेश शर्मा, सचिव विजय थपलियाल और अन्य अधिकारी रात नौ से सुबह आठ बजे तक व्यवस्थाएं बनाते रहे।

चार लोगों पर एक-एक हजार जुर्माना मंडी परिसर में बिना मास्क घूमने वाले चार लोगों पर मंडी सचिव विजय थपलियाल ने एक-एक हजार रुपये का जुर्माना लगाया। मंडी इंस्पेक्टर के साथ उन्होंने स्कूटी पर घूमकर निरीक्षण किया।

Post a Comment

0 Comments