मंगलवार को प्रदेश में मिले Corona के 43 नए मामले, कुल संक्रमितों की संख्या हुई 400...


Uttarakhand News:


उत्तराखंड में आज मंगलवार को कोरोना के 51 मरीज मिले हैं।



गढ़वाल व कुमाऊं मंडल के विभिन्न जिलों में इतनी बड़ी संख्या में मरीजों के सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन हरकत में आ गया है। 

प्रदेश में  51 मरीजों के मिलने के बाद अब संक्रमितों की संख्या 400 हो गई है। चिंता की बात है कि सबसे ज्यादा 136 मरीज नैनीताल जिले में हैं। 


यह सभी दिल्ली से लौटे प्रवासी हैं। इसमें नौ लोग रामनगर व एक कालाढूंगी का निवासी है। एसीएमओ डॉ. रशिम पंत के अनुसार सभी पॉजीटिव दिल्ली से लौटे थे जिन्हें फेसिलिटेशन क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। 
रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद सभी को सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती करवा दिया गय है। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक केवल बाहर से लौटे प्रवासी ही कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैँ। ऐसे में अच्छी बात यह है कि स्थानीय स्तर पर संक्रमण फैलने का अब तक कोई प्रमाण नहीं है।

प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अब  संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने में जुट गया है। संदिग्धों की पहचान कर उन्हें क्वारंटाइन किया जाएगा ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।
वायरस को मात देकर पूरी तरह से स्वस्थ्य हो चुके छह मरीजों को छुट्टी दी दी गई है जबकि शेष बचे मरीजों का सरकारी अस्पतालों में इलाज हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने आज 749 सैंपलों को जांच के लिए भेजा है। मंगलवार को ही 729 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। 
जिलेवार कोरोना मरीजों की संख्या
जिले                 मरीज 
अल्मोड़ा             15
बागेश्वर               08
चमोली               11
चंपावत              08  
देहरादून            74
हरिद्वार              28
नैनीताल           136
पौड़ी                10 
पिथौरागढ़         17
रुद्रप्रयाग          03
टिहरी              25
यूएस नगर        50 
उत्तरकाशी       10 
प्राइवेट लैब       05 
कुल मरीज       400

गौरतलब है कि उत्तराखंड में सोमवार का दिन भी कोरोना वायरस से जुड़ी कोई राहत की खबर नहीं लाया है। प्रदेशभर में आज 15 कोरोना वायरस के मरीज मिले हैं। गढ़वाल व कुमाऊं जिले में 15 कोरोना के मरीजों के मिलने के बाद अब प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 317 से बढ़कर 332 पहुंच गई है।  
स्वास्थ्य विभाग की ओर से जानी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, देहरादून, टिहरी, और पिथैरागढ़ जिले में में 01-01, चमोली में 02, हरिद्वार व पौड़ी जिले में 03-03 मरीज मिले हैं। सोमवार दोपहर तक, 15 मरीजों में से सबसे ज्यादा 04 मरीज उधमसिंह नगर  जिले में मिले हैं।
लेकिन, सोमवार देर शाम 17 और कोरोना के मरीज मिले हैं। हरिद्वार जिले में शाम को छह मरीज मिले हैं, जो मुंबई से प्रदेश आए थे। जबकि, टिहरी और यूएस नगर जिले में भी एक-एक मरीजों में वायरस की पुष्टि हो चुकी है। चिंता की बात है कि नैनीताल  जिले में नौ करोना के मरीज मिले हैं।

सोमवार शाम तक प्रदेश के गढ़वाल व कुमाऊं मंडल के विभिन्न जिलों में कुल 32 मरीज मिले हैं जिससे प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 317 से 349 पहुंच गई थी। लेकिन, देर शाम टिहरी जिले में आठ आए नए मामले आने सहित प्रदेशभर में सोमवार देर शाम तक कुल 40 मरीजों के मिलने से संक्रमितों की कुल संख्या 317 से बढ़कर 357 हो गई। 
प्रवासियों के लगातार बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद अब सरकार राज्य में सैम्पलिंग की रफ्तार बढ़ाने जा रही है। इसके लिए हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट, अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज और आईआईपी देहरादून में जांच शुरू करने का निर्णय लिया गया है।

प्रवासियों की वापसी के बाद से सरकार जांच में तेजी लाई है। जांच की रफ्तार बढ़ाते हुए सरकार प्रतिदिन सौ से बढ़ाकर एक हजार से ऊपर ले आई है। लेकिन पड़ोसी राज्यों की तुलना और बड़ी संख्या में लौट रहे प्रवासियों की तुलना में यह काफी कम हैं।

Post a Comment

0 Comments